Full Form

MLA Full Form || MLA का कार्य || MLA की सैलरी कितनी होती हैं जानिए

MLA Full Form

दोस्तो आज हम आपको MLA Full Form के साथ साथ MLA का कार्य ओर  उनकी सैलरी किनती होती हैं ओर क्या  क्या सुविधाए उनको मिलती हैं

MLA Full Form

 जानिए MLA Full-Form – Member of Legislative Assembly (विधान सभा सदस्य।)

MLA Full Form – MLA का पूर्ण रूप विधान सभा का सदस्य है। MLA एक जिले के मतदाताओं द्वारा राज्य भारत सरकार के विधायिका के लिए नियुक्त किया गया सदस्य है और मतदाता MLA को नामांकित करते हैं। भारत में, प्रत्येक सांसद (संसद सदस्य) के लिए प्रत्येक राज्य में चार से नौ विधायक हो सकते हैं जो लोकसभा में हैं। एमएलए की अपनी भूमिकाओं के अनुसार अलग-अलग कर्तव्य होते हैं। कुछ के पास एक से अधिक कार्य हैं, उदाहरण – के लिए, एक विधायक होने के नाते वह एक सीएम और कैबिनेट मंत्री भी हो सकते हैं।

MLA – विधान सभा का सदस्य होता है, जिसे हम विधायाक भी कहते है। MLA विधान सभा क्षेत्र का प्रतिनिधि होता है। विधान सभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने के लिए जनता द्वारा प्रतिनिधि के रूप में MLA को चुना जाता है।

NEET Full Form Pdf full form
MBBS Full Form Full-Form of MBA
PHD Full Form ATM full form
ITI Full-Form MD Full Form
NEET Notes PDF Physics Chemistry Biology UPTET TARGET

विधायक का कार्य काल 5 वर्ष का होता है। प्रत्येक 5 वर्ष के बाद जनता द्वारा चुनाव के माध्यम से विधायक को चुना जाता है।

 

MLA बनने के लिए आवश्यक आवश्यकता

MLA होने के लिए कुछ बुनियादी मानदंड हैं।

  • नामांकित व्यक्ति को भारतीय निवासी होना चाहिए।
  • नामांकित व्यक्ति की आयु कम से कम पच्चीस वर्ष होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार किसी भी निर्वाचन क्षेत्र का मतदाता होना चाहिए।
  • नामांकित व्यक्ति को पागल नहीं होना चाहिए।

विधायक का कर्तव्य

  • वह अपने स्थानीय निर्वाचन क्षेत्र के लोगों की भलाई के लिए कई विधायी साधनों का उपयोग करेगा।
  • एक विधायक लोगों की शिकायतों और महत्वाकांक्षाओं को पूरा करता है और उन्हें राज्य सरकार के साथ लाता है।
  • वह राज्य सरकार के सामने अपने क्षेत्र की चिंताओं को उठाएगा।
  • वह अपने मतदाताओं को सुधारने के लिए LAD (स्थानीय क्षेत्र विकास) बजट का सबसे अच्छा उपयोग करने की अनुमति देगा।

विधायक को कौन – कौन सी सुविधाएं मिलती है

भारत में लगभग कुल 4120 विधायक है। जिनको सरकार की तरफ से कई सारी सरकारी सुविधाएं प्राप्त होती है। जैसे हर विधायक को सरकार की तरफ से वेतन मिलता है। जो सभी राज्यों में अलग- अलग होता है। जिसमे वेतन के रूप में 75000 हजार रुपये मिलते है।

सभी राज्यों के विधायकों को अलग-अलग सुविधाएँ मिलती है। जैसे तेलंगान में विधायकों को सबसे ज्यादा सैलरी 2.5 लाख रुपये मिलती है। और त्रिपुता के विधायकों को सबसे कम 34000 हजार रुपये मिलते है।

राज्य

विधायक की सैलरी एवं भत्ते

 1. तेलंगाना  2.50 लाख
 2. दिल्ली  2.10 लाख
 3. उत्तर प्रदेश  1.87 लाख
 4. महाराष्ट्र  1.70 लाख
 5. जम्मू & कश्मीर  1.60 लाख
 6. उत्तराखंड  1.60 लाख
 7. आन्ध्र प्रदेश  1.30 लाख
 8. हिमाचल प्रदेश  1.25 लाख
 9. राजस्थान  1.25 लाख
 10. गोवा  1.17 लाख
 11. हरियाणा  1.15 लाख
 12. पंजाब  1.14 लाख
 13. झारखण्ड  1.11 लाख
 14. मध्य प्रदेश  2.10 लाख
 15. छत्तीसगढ़  1.10 लाख
 16. बिहार  1.14 लाख
 17. पश्चिम बंगाल  1.13 लाख
 18. तमिलनाडु  1.05 लाख
 19. कर्नाटक  98 हजार
 20. सिक्किम  86.5 हजार
 21. केरल  70  हजार
 22. गुजरात  65 हजार
 23. ओडिशा  62 हजार
 24. मेघालय  59 हजार
 25. पुदुचेरी  50 हजार
 26. अरुणाचल प्रदेश  49 हजार
 27. मिजोरम  47 हजार
 28. असम  42  हजार
 29. मणिपुर  37 हजार
 30. नागालैंड  36 हजार
 31. त्रिपुरा  34 हजार

इसके आलावा 2400 हजार रुपये डिज़ल खर्च के और 6000 हजार रुपये PA (Personal Assistace) रखने के मिलते है। और प्रति माह 1200 हजार रुपये मोबाइल खर्च और इलाज खर्च के लिए मिलते है।

इसके साथ ही विधायक को फ्री रेलवे यात्रा की आजीवन सुविधा मिलती है। इसके साथ ही विधायाक के रेटायर्मेंट के बाद 30000 हजार रुपये पेंशन मिलती है। और डीज़ल खर्च के लिए 8000 हजार रुपये अलग से मिलते है।

 

Friends, if you need an e-book or notes related to any subject. Or if you want any information about any exam, please comment on it. Like my Facebook page for daily info about our posts.

Leave a Comment